Abki Baar, BJP Sarkaar
You are here: Home | Media | Press Release
Media
Press Releases
ग्रांट रोड़ में सजा मुंबई का सबसे बड़ा पंडाल, सिद्धटेक अष्टविनायक के साथ चार धाम के दर्शन भी

• अष्टविनायक में से एक सिद्धटेक गणपति के दर्शन
• बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री के प्रतिकृतियां
• मुंबई का सबसे विशाल गणेश पंडाल, 50 हजार वर्गफीट क्षेत्र में
• प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के जीवन वृत्त पर विशेष प्रदर्शनी


मुंबई। मुंबई के सबसे बड़े गणेश पंडाल ‘मुंबई गणेश महोत्सव’का निर्माण इस बार ग्रांट रोड़ में किया गया है। अप्सरा सिनेमा के सामने गिल्डर टैंक स्कूल ग्राउंड पर करीब 50 हजार वर्गफीट में ‘मुंबई गणेश महोत्सव’पंडाल लोढ़ा फाउंडेशन द्वारा बनाया गया है, जहां चार धाम सहित सिद्धटेक अष्टविनायक गणपति के दर्शन होंगे। विख्यात आर्ट डायरेक्टर नितिन देसाई के निर्देशन में निर्मित इस पंडाल में सिद्धटेक अष्टविनायक गणपति सहित बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री, इन चारों धाम की विशाल प्रतिकृतियों का निर्माण किया गया है। यह अपने आप में बहुत भव्य एवं दर्शनीय पंडाल बना है।

मुंबई में पहली बार ऐसा हो रहा है कि किसी गणपति पांडाल में एक साथ चारों धाम के दर्शन सहित अष्ट विनायक में से एक सिद्धटेक गणपति के दर्शन भी एक ही पंडाल में किए जा सकेंगे। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के जीवन वृतांत पर एक विशाल प्रदर्शनी भी लगाई गई है। ‘मुंबई गणेश महोत्सव’ के आयोजक विधायक मंगल प्रभात लोढ़ा के मुताबिक इस गणेश पंडाल में बद्रीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री चारों धाम से पुजारी विशेष रूप से आ रहे हैं, जो वहां की पद्धति के अनुसार पूजा और आरती करेंगे। इन चार धाम का जल और वहीं का प्रसाद भी विशेष रूप से लाया जा रहा है, जो श्रद्धालुओं के लिए विशेष आकर्षण होगा। मुंबई के इस सबसे विशाल और भव्य गणेश पंडाल में भगवान गणपति के आव्हान के विशेष अवसर स्वरूप 31 अगस्त से 8 सितंबर तक अखंड गणेश यज्ञ का आयोजन भी किया जा रहा है। इस गणेशोत्व का खास आकर्षण होगा, अष्टविनायक में से एक सिद्धटेक गणपति के दर्शन। इस पंडाल में सिद्धटेक की विशेष प्रतिकृति बनाई गई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र की जीवन वृत्त पर एक विशेष प्रदर्शनी यहां आनेवाले लोगों के लिए विशेष आकर्षण का केंद्र होगी। विधायक लोढ़ा ने लोगों से ‘मुंबई गणेश महोत्सव’में बड़ी संख्या में भाग लेने की अपील की है।

पिछले तीन सालों में लोढ़ा फाउंडेशन का ‘मुंबई गणेश महोत्सव’सबसे बड़ा और श्रद्धालुओं की संख्या के हिसाब से तो मुंबई का सबसे विख्यात गणपति पांडाल है ही, यहां के सेट की भव्यता भी लोगों के आकर्षण का सबसे बड़ा केंदेर रही है। इस बार इस पंडाल में स्थानीय महिलाओं द्वारा निर्मित हैंडीक्राफ्ट और खाद्य पदार्थ भी विशेष आकर्षण होंगे। ‘मुंबई गणेश महोत्सव’ में रोज रात को 9 बजे विशेष लकू ड्रॉ भी आयोजित किया जाएगा। जिसके विजेताओं को हेलीकॉप्टर की यात्रा, अष्टविनायक के दर्शन एवं शिर्ड़ी की यात्रा कराई जाएगी। लोढ़ा फाउंडेशन के इस गणपति पंडाल अपने निर्माण के दौरान ही लोगों के आकर्षण का केंद्र बना रहा। अब, जब इसका काम पूरा हो गया है, तो लोगों का आकर्षण और भी बढ़ गया है। लोढ़ा ग्रुप द्वारा स्थापित लोढ़ा फाउंडेशन, एक चेरिटेबल संस्था है, जो भारतीय संस्कृति एवं धार्मिक परंपराओं के विकास सहित शिक्षा, स्वास्थ्य, वरिष्ठ नागरिकों की सहायतार्थ आदि विभिन्न सामाजिक कार्य कर रहा है।

© Copyrights 2013 Mangal Prabhat Lodha. All rights reserved.